हमारे गृहशहर मुंबई में चैट रूले — यह क्या है.

पत्राचार या फ़िर ‘वौइस् कॉल’ से बहुत कम लोग ही संतुष्ट होते हैं. लोग अकसर सामने वाले को देखना चाहते हैं. कुछ लोग एक छवि देखकर ही संतुष्ट हो जाते हैं तो कुछ बातचीत करते हुए उनके हाव-भाव और गतिविधियों को भी देखना चाहते हैं.

‘वीडियो कालिंग’ लम्बे से अस्तित्वमान है लेकिन अब जाकर यह आम जनता की पहुँच में आयी है. हमारे शहर मुंबई में चैट रूले — इन्टरनेट पर संवाद का एक माध्यम है जोकि दुनिया भर में ख़ासा लोकप्रिय है. शब्द “चैट” अंग्रेजी के शब्द CHAT से प्राप्त हुआ है जिसका अर्थ होता है ‘बातचीत’. चैट रूले एक विशेष सॉफ्टवेर की सहायता से तैयार किया गया है.

वीडियो फ़ोन — एक उपयोगी चीज़ है

ख़ासकर यदि आपके दोस्त दुनिया भर में फैले हों, आपको बस मुंबई में चैट रूले सीखकर उसे अपनाने की आवश्यकता है.

‘चैट फॉर्म’ से भिन्न

‘चैट फॉर्म’ के विपरीत यहाँ आप रूबरू होकर संवाद करते हैं. यहाँ पर संवाद के दौरान दोनों पक्ष तुरन्त प्रत्युत्तर देते हैं जबकि ‘मेल’ आदि से संवाद करते समय सामने वाले को बहुत प्रतीक्षा करनी पड़ सकती है और लिखने वाले को बहुत सोचना पड़ता हैं. ‘चैट रूम’ में विभिन्न भावों के ‘स्माइली’ का प्रयोग किया जा सकता है.

चैट रूले आपके गृहशहर मुंबई में किसलिए बनाया गया है

मुंबई में चैट रूले उन लोगों के लिए बनाया गया है जोकि लम्बे संवाद लिखना पसन्द नहीं करते अथवा आलसी हैं. उनके लिए जोकि सामने वाले को देखकर महसूसना चाहते हैं. चैट रूले के माध्यम से संवादकर्मी एक-दूसरे को प्रत्यक्ष तौर पर देख सकते हैं. चैट रूले का शहर मुंबई में प्रयोग बहुत सरल है. बस अपने कंप्यूटर या टेबलेट का कैमरा ‘ऑन’ करें इसे व्यवस्थित करें और चैट रूले में प्रवेश करें अथवा अपना पंजीकरण कराकर लोगों को आमन्त्रित करें. इस तरह के संवाद के फायदा है कि कोई भी आपको तब तक संवाद से बाहर नहीं करेगा जब तक कि आप नियमों को न तोड़ें और सामने वाले का अपमान न करें. अगर आपको कोई मित्र मण्डली नहीं भा रही हो तो आप उसे छोड़ भी सकते हैं.

मुंबई शहर में चैट रूले के लिए क्या आवश्यक है

हमारे शहर मुंबई में चैट रूले के लिए केवल एक ‘वेब कैमरा’ और इन्टरनेट की आवश्यकता होगी. यहाँ ‘वीडियो कॉल’ करना बहुत ही सरल है. आपको अपने उपकरण को एक विशेष प्रोग्राम से जोड़ने की आवश्यकता होगी, उसके बाद वांछित संपर्कों का चयन कर आप वार्तालाप का मज़ा ले सकते हैं.

सभी चैट रूले पूर्णतः निःशुल्क हैं

अगर इसे उपयोग करने हेतु अलग से फीस के भुगतान की बात कही जाती है तो आप के लिए यह आवश्यक हो जाता है कि इस सूचना को नकार दें क्योंकि यह कंप्यूटर वायरस भी हो सकता है.

हमारे शहर मुंबई में चैट रूले के लाभ

हमारे शहर में चैट रूले के माध्यम से आप सामने वाले को केवल सुन ही नहीं सकते बल्कि उसे देख भी सकते हैं और चेहरे को देखकर उसकी मनोदशा को भी भांप सकते हैं.

अपने शहर मुंबई में चैट रूले की मदद से आप लिंग आयु की परवाह किये बिना कई दोस्तों से जुड़ सकते हैं. कितनों ने ही चैट रूले के माध्यम से अपना मनचाहा जीवनसाथी पाया है. चैट रूले की मदद से भाषा सीखना, विज्ञान का अध्ययन और साथियों के संग बातचीत सबकुछ सम्भव है. संवाद का यह तरीका शर्मीले और असुरक्षित महसूस कर रहे लोगों के लिए वरदान के समान है जोकि ज़िन्दगी में दूसरों से बातचीत करने में हिचकते हैं. चैट रूले कुण्ठाओं को समाप्त करके व्यक्तित्व को मज़बूत बनाता है. चैट रूले की मदद से मुंबई में अपने परिवार और मित्रजनों के संग घण्टों जुड़े रहा जा सकता है.

अजनबियों के साथ बातचीत करते वक्त आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि आपके पीछे कुछ भद्दा नहीं होना चाहिए जैसे गन्दी दीवार, लटके हुए कपड़े इत्यादि. यह सब सामने वाले को अरुचिकर लग सकता है.

चैट रूले के लिए आपको अपने पैतृक शहर मुंबई में अलग से भुगतान करने की आवश्यकता नहीं होती है, आपको बस आमतौर पर इस्तेमाल होने वाले ‘इन्टरनेट टेरिफ’ की ही आवश्यकता होती है. चैट रूले का सबसे बड़ा फ़ायदा है कि आप बातचीत को बिना किसी बहाने के कभी भी विराम दे सकते हैं.

चैट रूले की कुछ खामियाँ

चैट के दौरान अपने शहर मुंबई में चैट रूले के इस्तेमाल के दौरान एक महत्वपूर्ण दोष चैट के गूँजने के तौर पर सामने आता है. कई बार आवाज़ देर से पहुँचती है या फ़िर सुनाई नहीं देती और कई बार प्रतिभागी स्वयं के आवाज़ की प्रति ध्वनि सुनते हैं, मानों उनकी ही आवाज़ लौटकर आ रही हो. यह प्रायः उस समय अधिक होता है जब ज़्यादा लोग समूह में संवाद कर रहे हों. चैट रूले पर भी लोगों की काफ़ी भीड़ होती है और कई बार ये समस्याएँ उपयोगकर्त्ताओं के उपकरण की गुणवत्ता में कमी के कारण भी आ सकती है

About